पाणिनिशाला ::


पाणिनीय शोध संस्थान जिसकी अध्यक्षा डॉ. पुष्पा दीक्षित हैं उनके निवास पर 2002 से लगभग प्रतिवर्ष पाणिनिशाला का आयोजन किया जाता है जिसमें सरल विधि से व्याकरण अध्ययन के हेतु देश भर से छात्र तथा प्राध्यापक उपस्थित होते हैं, जिनके निवास और भोजन की व्यवस्था जनसहयोग से कोसल संस्कृत समिति के द्वारा की जाती है तथा अध्यापन डॉ. पुष्पा दीक्षित द्वारा किया जाता है। इस पाणिनिशाला में भारत के अतिरिक्त अमेरिका से श्री नरेन्द्रन्, नेपाल से दावा ल्हासा, बाँगलादेश से लुब्ना मरियम, शिकागो से वरुण खन्ना, चीन से चाउ यन् आदि ने भी आकर पाणिनीय व्याकरण का गूढ़ अध्ययन किया है।
राष्ट्र के विभिन्न प्रदेशों में पाणिनिशाला - राष्ट्रिय संस्कृत संस्थान, दिल्ली द्वारा अपने विभिन्न परिसरों में भी पाणिनि कार्यशाला का आयोजन किया जाता है जिसमें सरल विधि से पाणिनीय व्याकरण के अध्ययन के हेतु छात्र तथा प्राध्यापक उपस्थित होते हैं।

:: पाणिनिशाला ::

पाणिनिशाला का आयोजन प्रतिवर्ष किया जाता है, वर्तमान में यह पाणिनिशाला हाईब्रीड मॉड (ऑनलाइन तथा ऑफलाइन) में आयोजित की जा रही है। इच्छुक प्रतिभागी विस्तृत जानकारी हेतु क्लिक करें -

कॉपीराइट © 2014 डॉ. पुष्पा दीक्षित (सभी अधिकार सुरक्षित) । संयोजक एवं समन्वयक : डॉ. अभिजित् दीक्षित